एक बड़ा सा पेड़

एक बड़ा सा पेड़ है बाहर मेरे घर के, देखता हूं उसको हर रोज सुबह उठके। अलग अलग मौसम में उसके अलग अलग हैं रूप, कभी देता छाँव हमको कभी देता है धूप। सुंदर सुंदर फूल हैं उसके रंग उनके हैं मुझको भाते, प्यारी प्यारी चिड़ियाँ आती सबका मन वह बहलाती। जब आती है तेज … More एक बड़ा सा पेड़

1 year old!

I have completed one year of blogging and I will continue to do it. I started blogging by looking at the blogs my mom has done.she made me account and I wrote my first blog ever  My Delhi Trip and I have ended the year  with another Delhi trip. Thanks to all my readers and … More 1 year old!